LAC पर चीन की सैन्य ड्रील: सेना प्रमुख नरवणे ने कहा- सीमा पर एकतरफा बदलाव की अनुमति नहीं, वायुसेना प्रमुख ने भी लिया लेह का जायजा


  • Hindi News
  • National
  • Army Chief Narwane Said Unilateral Changes Are Not Allowed On The Border, Air Force Chief Also Took Stock Of Leh

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली/लेह5 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

सेना प्रमुख ने कहा कि भारत का र�

LAC पर चीनी सेना के अभ्यास के बीच आर्मी और एयरफोर्स चीफ का बयान सामने आया है। एकतरफ आर्मी चीफ नरवणे ने सीमा पर सेना की स्थिति की जानकारी दी, वहीं वायुसेना प्रमुख आर के एस भदौरिया ने भी लद्दाख सीमा का दौरा किया है।

आर्मी चीफ ने कहा है कि भारत अपनी सीमा पर एकतरफा बदलाव की अनुमति कभी नहीं देगा। साथ ही हमारा प्रयास रहेगा कि अप्रैल 2020 की तरह ही दोनों सेनाओं की यथा स्थिति बहाल रहे। नरवणे ने यह साफ किया कि भारत के उत्तरी सीमा से लगे इलाके में महत्वपूर्ण क्षेत्रों पर हमारे जवानों का नियंत्रण पहले जैसा ही बना हुआ है।

उन्होंने आगे कहा कि पूर्वी लद्दाख में हमारी सेना चीन के साथ दृढ़ता से और बिना तनाव बढ़ाए मोर्चे पर जुटी हुई है। किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए हमारे पास पर्याप्त जवान मौजूद हैं। सेना प्रमुख ने कहा कि भारत का रुख बहुत स्पष्ट है कि सभी विवादित पॉइंट्स से सैनिकों की वापसी होने से पहले तनाव कम नहीं हो सकता।

पुणे में राष्ट्रीय रक्षा अकादमी (NDA) पहुंचे नौसेना प्रमुख एडमिरल करमबीर सिंह ने वहां कैडेटों के साथ पुश अप किया। नौसेना प्रमुख कल वहां पासिंग आउट परेड की समीक्षा करेंगे।

पुणे में राष्ट्रीय रक्षा अकादमी (NDA) पहुंचे नौसेना प्रमुख एडमिरल करमबीर सिंह ने वहां कैडेटों के साथ पुश अप किया। नौसेना प्रमुख कल वहां पासिंग आउट परेड की समीक्षा करेंगे।

​​​​​​वायुसेना प्रमुख ने भी लिया तैयारियों का जायजा
इस बीच वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल आर के एस भदौरिया शुक्रवार को लेह पहुंचे और चीन सीमा से लगे सैन्य क्षेत्रों का दौरा किया। भदौरिया ने यहां वायु सेना के अधिकारियों से सुरक्षा पर बात की और जवानों का हौसला भी बढ़ाया।

लेह और कारगिल जिले में वायुसेना की ऑपरेशनल तैयारियों की जानकारी लेते हुए वायुसेना प्रमुख ने अधिकारियों से सुरक्षा स्थिति पर बात की। इसके अलावा लेह में उपराज्यपाल आरके माथुर से मिलकर लद्दाख के सुरक्षा हालात के बारे में जानकारी दी।

मार्च 2020 के बाद लद्दाख में वायुसेना ने अपने विमानों से 686 टन सामान लद्दाख पहुंचाया है। कोरोना संकट के बीच स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहतर बनाने के लिए 52 टन मशीनरी और बुनियादी ढांचे से संबंधित सामान भी वायु सेना द्वारा पहुंचाया गया है।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *