UP पहुंचे ओवैसी: AIMIM चीफ बोले- योगी मेरे मजनू बन चुके हैं, हर TV डिबेट में मुझे लैला की तरह याद करते हैं; मोदी की भी नहीं सुनते


मुरादाबाद3 घंटे पहले

उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव के पहले नेताओं का जमावड़ा शुरू हो गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के वाराणसी दौरे के बाद ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के प्रमुख असदउद्दीन औवेसी गुरुवार को संभल और मुरादाबाद पहुंचे।

संभल में ओवैसी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यानाथ पर चुटीले अंदाज में हमला बोला। ओवैसी ने कहा- उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री मेरे मजनू बन चुके हैं। वे हर TV डिबेट में मुझे लैला की तरह याद करते हैं। ओवैसी यहीं नहीं रुकें, उन्होंने यूपी में चल रही ATS की कार्रवाई पर पलटवार करते हुए कहा कि जिन्हें आतंकी बताया जा रहा है, वे कोर्ट में बेगुनाह साबित होंगे तो फिर कसूरवार कौन होगा?

यूपी में कांवड़ यात्रा की अनुमति देने के मसले पर ओवैसी ने कहा कि योगी आदित्यनाथ तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भी बात नहीं सुनते हैं। इसके अलावा ओवैसी ने नई जनसंख्या नीति पर भी हमला करते हुए इसे महिला विरोधी बता दिया।

यूपी में संभल और मुरादाबाद जिले की कुल 7 सीटों पर मुस्लिम वोटर्स की संख्या 50% से ज्यादा है। ओवैसी का फोकस इन्हीं सीटों पर है। हालांकि उनके पहुंचने से पहले ही सपा सांसद डॉ. शफीकुर्रहमान बर्क का बयान आ गया है। बर्क का कहना है कि ओवैसी यहां आकर मुस्लिमों का ही नुकसान करेंगे।

मुरादाबाद और संभल मुस्लिम बहुल जिले हैं। इन इलाकों में औवेसी की एंट्री से सियासी समीकरण बदल सकते हैं। ओवैसी इससे पहले 2017 के विधानसभा चुनावों में मुरादाबाद आए थे। 2022 से पहले उनके यहां आने से सपा की मुश्किलें बढ़ सकती हैं।

संभल में कार्यालय का उद्घाटन करेंगे ओवैसी
AIMIM चीफ ओवैसी संभल में एक मजार पर चादरपोशी करेंगे। इसके बाद यहां उनका पार्टी कार्यालय के उद्घाटन का भी प्रोग्राम है। ओवैसी संभल से रोड शो की शक्ल में मुरादाबाद के लिए निकलेंगे। मुरादाबाद से पहले वह डींगरपुर में रुककर कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगे। इसके बाद वे शाम को मुरादाबाद में गलशहीद पहुंचेंगे। यहां नवाब मज्जू खां की मजार पर चादरपोशी करेंगे।

ओवैसी के पहुंचते ही पार्टी कार्यकर्ताओं की भीड़ लग गई। इस दौरान कोविड प्रोटोकॉल का भी ख्याल नहीं रखा गया।

कोर कमेटी से होटल में होगी मीटिंग
चादरपोशी के बाद ओवैसी दिल्ली रोड पर स्थित होटल 24 पहुंचेंगे। यहां उनकी पार्टी के नेताओं के साथ बैठक होनी है। इसी बैठक में 2022 के चुनावों में स्थानीय समीकरणों पर चर्चा होगी। मंडल के पार्टी प्रत्याशियों और दूसरे सियासी हालात पर भी यहां चर्चा हो सकती है।

दोनों जिलों की 7 सीटों पर पड़ सकता है असर
मुरादाबाद में 5 और संभल में 2 विधानसभा सीटें हैं। इनमें संभल जिले की संभल और असमोली विधानसभा सीट मुस्लिम बहुल है। जबकि मुरादाबाद में कुंदरकी, बिलारी, मुरादाबाद देहात, कांठ और ठाकुरद्वारा विधानसभा सीटों पर मुस्लिम मतदाता निर्णायक स्थिति में हैं।

विधानसभा मुस्लिम वोटों का प्रतिशत
संभल 77 %
असमोली 50 %
कुंदरकी 70%
बिलारी 54%
मुरादाबाद देहात 75%
ठाकुरद्वारा 74%
कांठ 55%

बर्क बोले- ओवैसी मुस्लिमों का नुकसान करेंगे, भाजपा को फायदा पहुंचाएंगे
AIMIM और सुहेलदेव समाज पार्टी के गठबंधन को SP सांसद डॉ. शफीकुर्रहमान बर्क ने मुसलमानों के लिए नुकसानदेह बताया है। डॉ. बर्क का कहना है कि ओवैसी की UP में सक्रियता मुसलमानों का ही नुकसान करेगी। उन्होंने कहा- वे जितने भी वोट काट पाएंगे, मुसलमानों के ही वोट काटेंगे। डॉ. बर्क ने कहा कि ओवैसी की वजह से BJP काे ही फायदा पहुंचेगा। वह मुसलमानों का कोई भला नहीं कर पाएंगे। उल्टा नुकसान ही करेंगे।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *