UP से एक और शर्मनाक तस्वीर: बलरामपुर में 2 लोगों ने कोरोना मृतक का शव पुल से नदी में फेंका, वीडियो सामने आने के बाद केस दर्ज


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बलरामपुरएक घंटा पहले

वीडियो में दो युवक पुल से राप्ती में शव फेंकते नजर आ रहे हैं।

गंगा किनारे मिली लाशों के बाद उत्तर प्रदेश से एक और शर्मनाक तस्वीर सामने आई है। बलरामपुर में एक कोरोना मृतक का अंतिम संस्कार करने की बजाय परिजन ने शव को राप्ती नदी में फेंक दिया। इसका एक वीडियो भी सामने आया है। इसमें दो लोग शव को पुल से नदी में फेंकते दिख रहे हैं। इनमें से एक ने PPE किट पहनी है।

कार से बनाए गए वीडियो में दो लोग शव को नदी में फेंकते दिख रहे हैं। इनमें से एक ने PPE किट पहन रखी है।

यह घटना कोतवाली थाना इलाके में राप्ती नदी पर बने सिसई घाट पुल की है। शव को राप्ती नदी में फेंके जाने के दौरान वहां से गुजर रहे किसी व्यक्ति ने इसका वीडियो बना लिया जो अब वायरल हो गया है।

दोनों आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज
शव फेंकने वाले दोनों लोगों की पहचान हो गई है। ये मृतक के परिवार के ही सदस्य हैं। इनमें से एक के हेल्थ वर्कर होने की बात भी सामने आ रही है। इन दोनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। लेकिन सवाल ये है कि ये तो सिर्फ एक वीडियो है, जिसमें पता चल गया कि शव फेंका जा रहा है। लेकिन क्या और भी शव राप्ती फेंके जा रहे हैं? इसका जवाब मिलना अभी बाकी है।

शव फेंकने वाले मृतक के परिवार के ही सदस्य हैं। शव को कोविड प्रोटोकाल के तहत परिवार को सौंपा गया था।

शव फेंकने वाले मृतक के परिवार के ही सदस्य हैं। शव को कोविड प्रोटोकाल के तहत परिवार को सौंपा गया था।

दो दिन पहले की है घटना
सीएमओ डॉ. विजय बहादुर सिंह ने बताया कि राप्ती नदी में फेंका गया शव सिद्धार्थनगर जिले के शोहरतगढ़ के रहने वाले प्रेम नाथ मिश्र का है। 25 मई को कोरोना संक्रमित होने पर उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। 28 मई को इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई थी।

इसके बाद कोविड प्रोटोकॉल के तहत शव परिजन को सौंपा गया था। लेकिन शव नदी में फेंकने की घटना का पता चलने पर कोतवाली नगर में महामारी एक्ट के तहत केस दर्ज करा दिया गया है।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *